कोरोना वायरस (कोविड – 19) सिर्फ फेफड़ों (Lungs) को नहीं मानव शरीर के ह्रदय ( दिल ), गुर्दा ( किडनी ) जैसे अंगों नुकसान पहुंचाता है

कोरोना वायरस (कोविड – 19) सिर्फ फेफड़ों (Lungs) को नहीं मानव शरीर के ह्रदय ( दिल ), गुर्दा ( किडनी ) जैसे अंगों नुकसान पहुंचाता है ( Corona virus (COVID-19) Damages the Heart , Kidneys of the Human Body, not just the Lungs)



कोरोना वायरस (कोविड – 19) सिर्फ फेफड़ों (Lungs) को नहीं मानव शरीर के ह्रदय ( दिल ), गुर्दा ( किडनी ) जैसे अंगों नुकसान पहुंचाता हैं ( Coronavirus (COVID-19) Damages the Heart , Kidneys of the Human Body, not just the Lungs)



कोरोना वायरस (कोविड – 19) के संक्रमण के द्वारा प्रमुख रूप से मनुष्य को सांस लेने में समस्या होती हैं. कोरोना वायरस (कोविड – 19) के संक्रमण के द्वारा प्रमुख रूप से मनुष्य के फेफड़े (Lungs)  प्रभावित होते हैं  परन्तु नए शोध में यह जानकारी मिली हैं कि कोरोना वायरस (कोविड – 19)  फेफड़ों (Lungs)  के साथ साथ मनुष्य के शरीर के ह्रदय (Heart), मस्तिष्क ( दिमाग), गुर्दा ( किडनी )तंत्रिका तंत्र ( Nervous System), त्वचा ( स्किन) इत्यादि पर भी बहुत बुरा असर होता है।


संयुक्त राज्य अमेरिकाइटली, जापान,इजराइल तथा चीन में कोरोना वायरस (कोविड – 19)  पर चल रहे शोध में यह प्रमाणित हुआ हैं कि कोरोना वायरस (कोविड – 19) फेफड़ों (Lungs)  के साथ साथ मनुष्य के शरीर के ह्रदय (Heart), मस्तिष्क( दिमाग), गुर्दा ( किडनी )तंत्रिका तंत्र ( Nervous System), त्वचा ( स्किन) इत्यादि अंगों को भी प्रभावित कर रहा हैं.


कोरोना वायरस (कोविड – 19) के संक्रमण द्वारा जिन मनुष्यों की मृत्यु हुई हैं उन पर किये गए शोध द्वारा यह जानकारी प्राप्त हुई है कि मृत संक्रमित मनुष्यों में ह्रदय रोग से पीड़ित व्यक्तियों की संख्या ज्यादा थी और कोरोना वायरस (कोविड – 19) के संक्रमण द्वारा मृत संक्रमित मनुष्यों के ह्रदय की कोशिकाएं भी क्षतिग्रस्त थी साथ ही यह भी पता चला हैं कि कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित व्यक्ति के शरीर में हृदय की मांसपेशियों में सूजन (मायोकार्डिटिस) भी थी.



कोरोना वायरस (कोविड – 19) का फेफड़ों (Lungs)  पर प्रभाव

कोरोना वायरस (कोविड – 19) के संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित मानव अंगों में से फेफड़ें (Lungs)  भी हैं . संयुक्त राज्य अमेरिकाइटली, जापान,इजराइल तथा चीन में कोरोना वायरस (कोविड – 19)  पर हुए शोध पर यह जानकारी मिली कि कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित व्यक्ति जब संक्रमण से मुक्त हुए तब उनके फेफड़ों (Lungs)  के कुछ हिस्से सही प्रकार से काम नहीं कर रहे थे.


कोरोना वायरस (कोविड – 19) के संक्रमण से मुक्त हुए कुछ व्यक्तियों के फेफड़े (Lungs)  के 25 से 35 प्रतिशत भाग प्रभावित थे. चूंकि फेफड़ों(Lungs)  का साइज़ छोटे आकार का होता हैं इसलिए कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित व्यक्ति को सांस लेने में दिक्कत होती हैं.


कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित व्यक्ति को ज्यादा सांस की आवश्यकता होती हैं ,वह तीव्र गति से सांस लेने लगता हैं जिसके कारण उसके फेफड़ें (Lungs)  भी प्रभावित होते हैं.



कोरोना वायरस (कोविड – 19) के संक्रमण द्वारा नसों में सूजन

कोरोना वायरस (कोविड – 19)  द्वारा संक्रमित व्यक्ति के शरीर की नसों पर भी प्रभाव पड़ता हैं. कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित व्यक्ति पर किये गए शोध द्वारा यह पता चला हैं कि कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित मनुष्य के शरीर की नसों में सूजन आ गई हैं. 


ज्यूरिख यूनिवर्सिटी के अस्पताल के चिकित्सकों को कोरोना वायरस (कोविड – 19) के संक्रमण द्वारा मृत हुए मनुष्यों के पोस्टमार्टम (ऑटोप्सी) के दौरान यह जानकारी मिली कि मृत व्यक्ति की नसों के भीतरी भाग में सूजन आ गई थी .


चूंकि मनुष्य के शरीर में खून नसों के जरिये ही एक हिस्से से दूसरे हिस्से तक प्रवाहित होता हैं. कोरोना वायरस (कोविड – 19)  के संक्रमण के द्वारा नसों में सूजन आ जाने के कारण खून का प्रवाह सही तरीके से नहीं हो पा  रहा था और कोरोना वायरस (कोविड – 19)  से संक्रमित मनुष्य के महत्वपूर्ण अंग यथा- मस्तिष्क ( दिमाग), ह्रदय (Heart) आदि के सही प्रकार से कार्य न कर पाने के कारण व्यक्ति कि मृत्यु हो जा रही हैं.



कोरोना वायरस (कोविड – 19) का मस्तिष्क( दिमाग) पर प्रभाव

कोरोना वायरस (कोविड – 19) से पूर्व सार्स एवं मर्स नामक वायरस ने भी तंत्रिका तंत्र( Nervous System) की कोशिकाओं के द्वारा मनुष्य के मस्तिष्क ( दिमाग) को बुरी तरह से प्रभावित किया था. 


कोरोना वायरस (कोविड – 19) के संक्रमण के दौरान जापानमें  एक कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित व्यक्ति को मिर्गी के दौरे आने लगे तब चिकित्सकों ने उस व्यक्ति की जांच द्वारा यह जानकारी प्राप्त की कि उस व्यक्ति के मस्तिष्क ( दिमाग) में सूजन आ गई थी.


जापानी चिकित्सकों के शोध में यह पता चला कि कोरोना वायरस (कोविड – 19) उस व्यक्ति के मस्तिष्क ( दिमाग) को प्रभावित कर चुका था. 


संयुक्त राज्य अमेरिकाजापान तथा चीन में हो रहे शोध में यह पता चला कि  कोरोना वायरस (कोविड – 19) मनुष्य के मस्तिष्क ( दिमाग) की कोशिकाओं को नष्ट कर दे रहा हैं .


यह भी पढ़ें - एक गिलास गुनगुना (गर्म) जल (पानी) के 15 रामबाण फायदे गैस, कब्ज एवं पीरियड के दर्द से हमेशा के लिए मुक्ति


कोरोना वायरस (कोविड – 19)  का गुर्दा (किडनी) पर प्रभाव

कोरोना वायरस (कोविड – 19) का गुर्दा (किडनी) पर भी बहुत बुरा प्रभाव पड़ रहा हैं. चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार यदि कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित व्यक्ति को निमोनिया जैसी बीमारी है तथा उस कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित व्यक्ति को  वेंटिलेटर की आवश्यकता होती हैं तब उस कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित व्यक्ति के  गुर्दा (किडनी) को भी नुकसान पहुचंता हैं.


निमोनिया के कारण मनुष्य के फेफड़ों (Lungs)  में एक द्रव इकठ्ठा होने लगता हैं. उस जमा हो रहे द्रव को समाप्त करने के लिए दवा दी जाती हैं. द्रव को समाप्त करने वाली दवा के प्रभाव से गुर्दा (किडनी) में रक्त प्रवाह प्रभावित होने लगता हैं अर्थात् रक्त जमने लगता हैं.


कोरोना वायरस (कोविड – 19) के संक्रमण के कारण रक्त जमने की स्थिति में गुर्दा (किडनी) तक सही से नहीं पहुँच पाता हैं और गुर्दा (किडनी) सही से कार्य नही कर पता हैं.



कोरोना वायरस (कोविड – 19)  का तंत्रिका तंत्र( Nervous System) एवं त्वचा पर प्रभाव

पूर्व के दिनों में कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित व्यक्ति की  त्वचा(Skin) पर चकत्ते(रैशेज) पाए गए थे इस स्थिति को कोरोना वायरस (कोविड – 19)  के  लक्षणों में शामिल कर लिया गया.


बहुत सारे कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित व्यक्तियों के पैरों की अंगुलियों पर बैंगनी रंग के चकत्ते (रैशेज) दिखाई दे रहे थे. 


चीन में भी बहुत सारे कोरोना वायरस (कोविड – 19) से संक्रमित व्यक्तियों के पैरों की अंगुलियों पर बैंगनी रंग के चकत्ते (रैशेज) दिखाई दे रहे थे. 


बेल्जियम में हुए शोध में यह जानकारी प्राप्त हुई कि कोरोना वायरस (कोविड – 19) का तंत्रिका तंत्र( Nervous System) की तंत्रिका कोशिकाओं पर भी बहुत बुरा प्रभाव हो रहा हैं.



Coronavirus (COVID-19) Damages the Heart, Kidneys of the Human Body, not just the Lungs.

Human beings have problems breathing mainly due to the infection of Coronavirus (COVID-19). Human Lungs are mainly affected by the infection of Coronavirus (COVID-19), but new research has found that Coronavirus (COVID-19) is the Heart, Brain, Kidney (human body) of Lungs as well as the human body. KidneyNervous System, Skin, etc. also have a very bad effect.


In the United States of America, Italy, Japan, Israel, and China, ongoing research on the Coronavirus (COVID-19)has proven that Coronavirus (COVID-19) is the Heart, Brain, Kidney of the human body along with Lungs., Nervous System, Skin, etc. are also affecting the organs.


Research on humans who died due to coronavirus (COVID-19) infection has revealed that dead infected humans had higher numbers of people suffering from Heart disease and Coronavirus (COVID-19). 


The Heart cells of infected humans were also damaged by the infection and it has also been found that the body of the infected person with the Coronavirus (COVID-19) Inflammation (Myocarditis)in the Heart muscle in serious too.


Lungs are also among the most affected human organs due to Coronavirus(COVID-19) infection. Research on the Coronavirus (COVID-19) in the United States of AmericaItaly, Japan, Israel, and China found that people infected with the Coronavirus (COVID-19) were free from infection when parts of their Lungs were properly Were not working with


25 to 35 percent of the Lungs of some individuals affected by the coronavirus (COVID-19) were affected. Since the size of the Lungs is small, the person infected with Coronavirus (COVID-19) has difficulty in breathing. 


A person infected with Coronavirus (COVID-19) needs more breath, he starts breathing faster due to which his Lungs are also affected.



Inflammation of the Veins by infection of the Coronavirus (COVID-19)

The Veins of the body of a person infected by the Coronavirus (COVID-19) also have effects. Research on a person infected with the Coronavirus (COVID-19) has revealed that the veins of the body of a human infected with the Coronavirus (COVID-19)have swollen.


Physicians at the University Hospital of Zurich received information during post-mortem (autopsy) of humans who was killed by an infection with the Coronavirus (COVID-19), that there was swelling of the inner part of the dead person's veins.


Blood flows from one part to another through the veins in the human body. Due to inflammation in the veins due to infection of Coronavirus (COVID-19), the Blood flow was not being done properly and important organs of a human being infected with Coronavirus (COVID-19) like Brain, Heart, etc. The person is dying due to not working properly.



Effect of Coronavirus (COVID-19) on the Brain

Prior to the Coronavirus (COVID-19), the virus called SARS and MARS also severely affected the Brain of humans by the cells of the Nervous System.


During infection with the Coronavirus (COVID-19), a person infected with a Coronavirus (COVID-19) started having epileptic seizures in Japan, when the doctors found out that the person's Brain I was swollen.


Research by Japanese doctors found that the Coronavirus (COVID-19) had affected the person's brain. Research in the United States of America, Japanand China found that the coronavirus (COVID-19) is destroying the Brain cells of humans.


Also Read - 15 panaceas of a glass of Lukewarm (Hot) Water benefits from Gas, Constipation and Period Pain forever


Effect of Coronavirus (COVID-19) on Kidney

Coronavirus (COVID-19) is also having a very bad effect on the Kidney. According to medical experts, a person infected with Coronavirus (COVID-19)has Pneumonia-like disease and a person infected with that Coronavirus (COVID-19) needs a ventilator, then a person infected with that Coronavirus (COVID-19) Kidney is also damaged.


Due to Pneumonia, fluid starts to collect in the Lungs of man. Medicines are given to eliminate that accumulated fluid. 


The Blood flow in the Kidney starts to get affected due to the effect of the drug which eliminates the fluid, ie the Blood starts to freeze.


Due to the infection of coronavirus (COVID-19), the Kidneys are not able to reach the Kidney properly and the Kidneys do not work properly.



Effect of Coronavirus (COVID-19) on the Nervous System and Skin

In the past, Rashes were found on the Skin of a person infected with Coronavirus (COVID-19), this condition was included in the symptoms of Coronavirus (COVID-19).


Purple rashes were visible on the fingers of the feet of individuals infected with several coronaviruses (COVID-19).


In China too, purple rashes were visible on the feet of persons infected with Coronavirus (COVID-19).


Research in Belgium has found that the Coronavirus (COVID-19) is also having a very bad effect on nerve cells.




Post a comment

0 Comments