तरबूज के फायदे और नुकसान | तरबूज का ज्यादा सेवन शरीर के लिए हानिकारक हो सकता हैं | Watermelon Benefits and Side Effects in Hindi

तरबूज खाने के फायदे | तरबूज खाने के नुकसान | तरबूज का वैज्ञानिक नाम क्या हैं | Benefits of Watermelon in Hindi | Side Effects of Watermelon in Hindi | Tarbuj ko English me kya kahate hain

आज आप इस लेख के माध्यम से Watermelon Vitamins, Yellow Tarbuj, Tarbuj Khane ke Fayde, Watermelon Side Effects in Hindi, Tarbuj in English एवं Tarbuj Kheti के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी प्राप्त करेंगे.

यह भी पढ़ें - चाय, बेड टी के फायदे और नुकसान

 

तरबूज हिंदी में - Watermelon in Hindi, Tarbuj in Hindi

फल का सेवन करने के बारें में सभी लोग कहते हैं क्योंकि फल के सेवन से हमारा शरीर स्वस्थ रहता हैं. फलों में अनेको प्रकार के मिनरल्स पाए जाते हैं जो की हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं.

गर्मी के मौसम में कई प्रकार के फल पाए जाते हैं जिनमे मिनरल्स का भण्डार होता हैं. गर्मी के मौसम में पाए जाने वाले फलों के सेवन से हम अपने शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं.

तरबूज गर्मियों के मौसम में पाया जाने वाला बहुत ही फायदेमंद फल हैं. यह फल गर्मी के मौसम में बहुत ही सुलभता से प्राप्त हो जाता हैं. तरबूज को गर्मी के मौसम में अवश्य खाया जाना चाहिये क्योंकि इसमें पौष्टिक तत्व बहुत अधिक मात्रा में पाए जाते हैं.

तरबूज फल क्या हैं और तरबूज फल के फायदे और नुकसान क्या हैं के बारें में इस लेख के द्वारा विस्तार से जानते हैं.

यह भी पढ़ें - एक गिलास गुनगुना पानी के 15 रामबाण फायदे गैस, कब्ज एवं पीरियड के दर्द से हमेशा के लिए मुक्ति

 

तरबूज क्या हैं - What are Watermelons in Hindi

तरबूज फल का आकार बड़ा गोलाकार एवं अंडाकार होता हैं. तरबूज फल का बाहरी छिलका कठोर एवं हरे रंग का होता हैं. तरबूज को काटने के बाद इसके अन्दर गुलाबी अथवा पीला रंग का नरम गुदा होता हैं जिसका सेवन किया जाता हैं.

तरबूज फल के अन्दर छोटे आकार के ढ़ेर सारे बीज भी पाए जाते हैं. तरबूज के गुदे का स्वाद मीठा एवं स्वादिष्ट होता हैं. तरबूज में जल की बहुत ज्यादा मात्रा पाई जाती हैं जिससे शरीर में होने वाली पानी की कमी को पूरा किया जा सकता हैं.

तरबूज फल में लगभग 92 प्रतिशत जल की मात्रा होती हैं जो कि हमारे शरीर को हाइड्रेट रखने में सहयोग करता हैं जिससे हमारा शरीर डीहाइड्रेशन का शिकार नहीं हो पाता हैं.

तरबूज फल में फैट की मात्रा नहीं होती हैं. तरबूज फल में विटामिन ए, विटामिन बी-6, विटामिन सी, पोटैशियम, लाइकोपीन, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फाइबर, आयरन, कैल्शियम, फास्फोरस एवं मैग्नीशियम जैसे मिनरल्स बहुत ज्यादा मात्रा में पायें जाते हैं.

यह भी पढ़ें - कोरोना वायरस (कोविड – 19) सिर्फ फेफड़ों को नहीं मानव शरीर के ह्रदय,  किडनी जैसे अंगों को नुकसान पहुंचाता है

 

तरबूज के फायदे और नुकसान | Watermelon Benefits and Side Effects in Hindi

तरबूज का वैज्ञानिक नाम क्या हैं हिंदी में - What is the Scientific Name of Watermelon in Hindi

तरबूज का Scientific नाम साइट्रलस लैनाटस (Citrullus Lanatus) हैं.

यह भी पढ़ें - नीला सियार पंचतंत्र की कहानी, Blue Jackal Panchtantra Story In Hindi

 

तरबूज का इतिहास क्या हैं - What is the History of Watermelon in Hindi

तरबूज फल की खेती (Tarbuj ki Kheti) विश्व के लगभग सभी देशों में किये जाने के कारण तरबूज दुनिया भर के सभी देशों में पाया जाता हैं.

तरबूज की उत्पत्ति दक्षिण अफ्रीका के कालाहारी मरुस्थल के आसपास के क्षेत्रों में हुई थी. तरबूज की खेती सर्वप्रथम मिस्त्र एवं चीन में लगभग 1000 वर्ष पूर्व की गई थी.

भारत में राजस्थान के कुछ क्षेत्रों में तरबूज को मतीरा के नाम से तथा हरियाणा के कुछ क्षेत्रों में हदवाना के नाम से जाना जाता हैं.

वर्ष 2005 में आयोजित होप अरकांसा बिग वाटरमेलन प्रतियोगिता में अभी तक का सबसे बड़ा 122 किलोग्राम का तरबूज दर्ज किया गया हैं. पूरे विश्व में तरबूज की लगभग 1,200 से अधिक प्रजातियों की खेती की जाती हैं.

यह भी पढ़ें - घर पर मात्र 5 मिनट में हैंड सैनिटाइजर बनाने का तरीका

 

तरबूज की तासीर कैसी होती हैं - Tarbuj ki Taseer in Hindi

तरबूज फल में प्रचुर मात्रा में पानी की उपलब्धता के कारण तरबूज फल की तासीर ठंडी होती हैं. गर्मियों में तरबूज का सेवन करने से शरीर में होने वाली पानी की कमी को पूरा किया जा सकता है और तरबूज आपके शरीर को ठंडा भी रखता हैं.

यह भी पढ़ें - तुलसी के फायदे एवं नुकसान, तुलसी के पत्तों द्वारा घरेलू उपचार

 

तरबूज के पौष्टिक तत्व - Watermelon Nutritional Elements in Hindi

तरबूज में निम्नलिखित पोषक तत्व (Watermelon Vitamins) पाए जाते हैं.

जल, प्रोटीन, ऊर्जा, फैट, कार्बोहाइड्रेट, शुगर, डाइटरी फाइबर, आयरन, कैल्शियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, सोडियम, पोटैशियम, जिंक, थायमिन, विटामिन सी, राइबोफ्लेविन, विटामिन बी 6, नियासिन, फोलेट डीएफई, विटामिन ए, विटामिन ए आरएई, विटामिन ई (अल्फा-टोकोफ़ेरॉल), विटामिन डी (डी 2 + डी 3), विटामिन डी, विटामिन के (फाइलोक्विनोन), लिपिड फैटी एसिड सैचुरेटेड, फैटी एसिड मोनोअनसैचुरेटेड, फैटी एसिड पॉलीअनसैचुरेटेड, फैटी एसिड ट्रांस, कोलेस्ट्रॉल एवं कैलोरी

यह भी पढ़ें - घर में नाखून की सुरक्षा एवं देखभाल करने के आसान उपाय

 

तरबूज खाने का सही तरीका क्या हैं - What is the right way to eat Watermelon in Hindi

गर्मियों में तरबूज फल खाने का सही तरीका निम्नलिखित हैं.

1 - तरबूज का मॉकटेल अथवा कॉकटेल बनाकर सेवन कर सकते हैं.

2 - तरबूज का जूस निकालकर सेवन कर सकते हैं.

3 - तरबूज को काटकर गुदे का सेवन कर सकते हैं.

4 - तरबूज को छोटे छोटे टुकड़ों में काटकर सलाद के रूप में भी सेवन कर सकते हैं.

5 - तरबूज का वॉटरमेलन डोनट्स बनाकर सेवन कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें - रथयात्रा कब है, रथयात्रा क्यों मनाया जाता हैं

 

तरबूज खाने का सही समय क्या हैं - What is the right time to eat Watermelon in Hindi

तरबूज फल खाने का सही समय सुबह से दोपहर तक होता हैं परन्तु सबसे उपयुक्त समय दोपहर का समय होता हैं. सिर्फ तरबूज ही नहीं आप कोई भी फल सुबह से लेकर दोपहर के बीच में सेवन कर सकते हैं. आयुर्वेदानुसार रात में तरबूज का सेवन नहीं करना चाहिये इससे पेट सम्बंधित समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं.

यह भी पढ़ें - HSRP क्या हैं और Online Apply कैसे करें

 

तरबूज के फायदे क्या हैं - Watermelon Benefits in Hindi, What are the Benefits of Watermelon in Hindi 

तरबूज फल में बहुत सारे पौष्टिक तत्व एवं जल की मात्रा पाई जाती हैं जिससे मानव शरीर हाइड्रेट रहता है और शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्वों की भी पूर्ति होती हैं. गर्मियों में तरबूज खाने के फायदे (Tarbuj Fruit Benefits in Hindi) निम्न लिखित हैं.

यह भी पढ़ें - रक्षा बंधन कब है और क्यों मनाया जाता है

 

उच्च रक्तचाप में तरबूज के फायदे - Benefits of Watermelon in high Blood Pressure

तरबूज में एमिनो एसिड, पोटेशियम एवं मैग्नीशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं जो रक्त प्रवाह को सुनिश्चित करने एवं रक्त वाहिकाओं को स्वस्थ रखने का काम करते हैं. तरबूज में मौजूद कैरोटेनोइड रक्त धमनी की दीवारों एवं नसों को सख्त होने से रोकने में सहायता करता हैं जिसके कारण रक्तचाप, दिल के दौरे, स्ट्रोक एवं एथेरोस्क्लेरोसिस होने की सम्भावना बहुत कम हो जाती हैं.

यह भी पढ़ें - कोविड-19 हेल्पलाइन नंबर क्या हैं | Covid-19 Vaccine Helpline Number

 

वजन कम करने में तरबूज के फायदे - Benefits of Watermelon in reducing Weight

तरबूज में फैट की मात्रा नहीं होती हैं जिसके कारण शरीर का वजन और कोलेस्ट्रोल नहीं बढ़ता हैं. तरबूज फल में बहुत कम मात्रा में कैलोरी भी होती हैं. तरबूज में सिट्रलीन नामक तत्व पाया जाता हैं जो शरीर का वजन घटाने में सहायक होता हैं.

यह भी पढ़ें - JioMart क्या है, JioMart से सामान ऑनलाइन आर्डर कैसे करे

 

हाइड्रेट रहने के लिए तरबूज के फायदे - Benefits of Watermelon to stay Hydrated

तरबूज फल में लगभग 92 प्रतिशत जल की मात्रा होती हैं, जो कि हमारे शरीर को  इलेक्ट्रोलाइट्स एवं तरल पदार्थ की आवश्यकता की पूर्ति करता हैं और हमें हाइड्रेट रखने में सहयोग करता हैं जिससे हमारा शरीर डीहाइड्रेशन का शिकार नहीं हो पाता हैं. तरबूज फल में पुनर्जलीकरण लवण सोडियम, कैल्शियम, पोटेशियम एवं मैग्नीशियम पाए जाते हैं जो कि हमारे शरीर एवं त्वचा को हाइड्रेट रखते हैं.

यह भी पढ़ें - IRCTC क्या हैं, IRCTC पर Account कैसे बनाये

 

आँखों के लिए तरबूज के फायदे - Benefits of Watermelon for Eyes

तरबूज फल में बीटा कैरोटीन नामक तत्व पाया जाता हैं जो कि आँखों को स्वस्थ रखने में सहायक होता हैं. तरबूज में पाए जाने वाले विटामिन ए एवं लाइकोपीन तत्व अध पतन, मोतियाबिंद, रतौंधी एवं उम्र सम्बंधित आँखों की बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करने में सहायक होते हैं.

यह भी पढ़ें - JioMeet क्या हैं , JioMeet को कैसे Use करें

 

गुर्दों के लिए तरबूज के फायदे - Benefits of Watermelon for Kidneys

तरबूज फल में पानी की अधिक मात्रा होने के कारण यह एक प्राकृतिक मूत्रवर्धक हैं जो कि गुर्दों के लिए बहुत फायदेमंद होता हैं. तरबूज आपके शरीर से हानिकारक विषाक्त एवं दूषित पदार्थों को मूत्र द्वारा बाहर निकालने में सहायक होता हैं. यह गुर्दों, लीवर को स्वच्छ एवं कार्य करने की क्षमता को बढाता हैं और रक्त में यूरिक एसिड को भी कम करता हैं.

यह भी पढ़ें - WhatsApp Web क्या हैं और कंप्यूटर पर कैसे काम करता हैं

 

मनः स्थिति के लिए तरबूज के फायदे - Benefits of Watermelon for Mood

तरबूज फल में विटामिन बी 6 अधिक मात्रा में पाया जाता हैं जो आपके मन को शांत रखने के लिए एक बहुत आवश्यक पोषक तत्व हैं. इसके अतिरिक्त तरबूज में विटामिन सी भी पाया जाता हैं जो व्यग्रता, डिप्रेशन एवं चिड़चिड़ापन को दूर करने में मदद करता हैं.

यह भी पढ़ें - Youtube ऐप का सब्सक्रिप्शन पैक लिए बिना अपने स्मार्टफोन के बैकग्राउंड में वीडियो कैसे देखे

 

ह्रदय के लिए तरबूज के फायदे - Benefits of Watermelon for Heart

तरबूज फल में पोटैशियम पाया जाता हैं जो कि ह्रदय के लिए बहुत फायदेमंद होता हैं. तरबूज में उपस्थित सिट्रलीन और आर्जिनाइन तत्व रक्त प्रवाह एवं रक्त धमनियों को साफ़ एवं नियमित रखते हैं.

यह भी पढ़ें - Aarogya Setu App क्या है और कैसे इस्तेमाल करें

 

कैंसर से बचाव में तरबूज के फायदे - Benefits of Watermelon in preventing Cancer

तरबूज फल में लाइकोपीन, बीटा कैरोटीन और विटामिन ए की भरपूर मात्रा पाई जाती हैं. लाइकोपिन एंटीऑक्सिडेंट कैंसर होने की सम्भावना को कम करता हैं. तरबूज प्रोस्टेट, फेफड़े का कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर, गर्भाशय कैंसर से बचाव में सहायक हैं बल्कि कैंसर के उपचार हेतु भी प्रयोग किया जाता हैं.

यह भी पढ़ें - Google Meet क्या हैं, Google Meet को कैसे इस्तेमाल करें

 

ऊर्जा स्तर बढ़ाने में तरबूज के फायदे - Benefits of Watermelon in increasing Energy Level

तरबूज फल में मैग्नीशियम, पोटैशियम, बीटा कैरोटीन, विटामिन बी और विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं. तरबूज के सेवन से हमारे शरीर का ऊर्जा स्तर 23 प्रतिशत बढ़ जाती हैं जिससे हमारे शरीर का ऊर्जा स्तर संतुलित रहता हैं.

यह भी पढ़ें  - यदि आप पुराने स्मार्टफोन को नए स्मार्टफोन से Exchange कर रहे हैं या स्मार्टफोन को बेच चुके हैं तो इस स्मार्ट ट्रिक का प्रयोग करने से आप अपने पुराने स्मार्टफोन का डेटा Delete कर सकते हैं

 

अस्थमा में तरबूज के फायदे - Benefits of Watermelon in Asthma

एक नए अध्ययन के अनुसार विटामिन सी की कमी से अस्थमा होने का खतरा होता हैं. तरबूज में 40 प्रतिशत विटामिन सी पाया जाता हैं जो कि अस्थमा की सम्भावना को कम करने में सहायक होता हैं.

यह भी पढ़ें - इस स्मार्ट ट्रिक का प्रयोग करने से आपके स्मार्टफोन का लॉक खुला रहने के बाद भी कोई भी आपके स्मार्टफ़ोन को प्रयोग नहीं कर पायेगा

 

लू से बचाव में तरबूज के फायदे - Benefits of Watermelon to prevent Heatstroke

तरबूज में जल की मात्रा बहुत अधिक होती हैं जिससे आपका शरीर हाइड्रेट रहता हैं. तरबूज के सेवन से आपके शरीर का अतिरिक्त पानी पसीने के रूप में आपके शरीर से बाहर निकलता रहता हैं जिससे आपका शरीर ठंडा बना रहता हैं.

तरबूज फल के सेवन से हमारे शरीर को लू लगने की संभावना बहुत कम होती हैं और यह हमें हमारे शरीर में गर्मी के कारण होने वाली बेचैनी से भी राहत देता हैं.

यह भी पढ़ें - क्या आप जानते हैं कि Facebook Messenger App में एक Secret Inbox भी होता हैं

 

प्रेगनेंसी में तरबूज खाने के फायदे क्या हैं - What are the benefits of eating Watermelon during Pregnancy

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को विभिन्न प्रकार की पाचन सम्बन्धी समस्याएं उत्पन्न हो जाती  हैं. तरबूज की तासीर ठंडी होने के कारण तरबूज के सेवन से महिलाओं को पाचन सम्बन्धी दिक्कतों से राहत मिलती हैं.

यह भी पढ़ें - इस ट्रिक की सहायता से आप WhatsApp Messenger पर वर्षों पुराने भेजे गए मैसेजों को भी बहुत आसानी से सभी के लिए Delete (Delete For Everyone) कर सकते हैं

 

बाल और त्वचा को स्वस्थ रखने में तरबूज के फायदे - Benefits of Watermelon in keeping Hair and Skin Healthy

तरबूज फल में विटामिन सी तथा विटामिन ए भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं. जिससे आपके बाल और त्वचा स्वस्थ रहती हैं.

यह भी पढ़ें - Caller Name Announcer Pro App अब आपका Smartphone खुद नाम लेकर बताएगा कि किसका कॉल या मैसेज रहा हैं, Caller Name Announcer Pro App क्या हैं और इसे कैसे Use करें

 

तरबूज के बीज खाने के फायदे क्या हैं - Watermelon Seeds Benefits in Hindi, What are the benefits of eating watermelon seeds in Hindi

1 - तरबूज के बीज को छीलकर अन्दर की गिरी का सेवन करने से मस्तिष्क की कमजोर नसों में ताकत आती हैं और सूजन में भी कमी आती हैं.

2 - तरबूज के बीज को छीलकर अन्दर की गिरी का सेवन करने से शरीर में ताकत आती हैं.

3 - तरबूज के बीजों की गिरी की ठंडई बनाकर सुबह नियमित रूप से सेवन करने से स्मरण शक्ति बढती हैं.

4 - तरबूज के बीज की गिरी में मिश्री और सौंफ को बारीक पीसकर मिलाकर सेवन करने से गर्भ में पल रहे शिशु का विकास अच्छा होता हैं.

5 - तरबूज के बीज को चबाकर चूसने से दांतों के पायरिया रोग में बहुत लाभ मिलता हैं.

6 - तरबूज के बीज की गिरी को पानी के साथ पीसकर लेप बनाकर माथे पर लगाने से पुराने सिरदर्द में लाभ मिलता हैं.

7 - तरबूज के बीज का नियमित सेवन से तिल्ली में लाभ मिलता हैं.

यह भी पढ़ें - यदि आपका Smartphone Hang हो रहा हो तो इस स्मार्ट ट्रिक का प्रयोग करने से आपका Smartphone तेज चलने लगेगा

 

तरबूज के नुकसान क्या हैं - Tarbuj Fruit Side Effects in Hindi, Watermelon Side Effects in Hindi, What is the Side Effects of Tarbuj in Hindi

तरबूज फल के बहुत ज्यादा सेवन से हमारे शरीर को जितने जल की आवश्यकता होती हैं उससे ज्यादा जल की मात्रा हो जाएगी, यह पानी हमारे शरीर के लिए बहुत हानिकारक होता हैं.

तरबूज फल के 100 ग्राम भाग में लगभग 30 कैलोरी एनर्जी एवं 06 ग्राम शुगर की मात्रा होती हैं. तरबूज फल पूरे दिनभर में लगभग 400-500 ग्राम का सेवन करना उचित रहता है परन्तु यदि तरबूज फल का इससे ज्यादा सेवन किया जाये तो यह हमारे शरीर के लिए बहुत हानिकारक हो जाता हैं.

आप सब जानते ही होंगे कि यदि किसी वस्तु का अधिक प्रयोग किया जाता हैं तो वो हानिकारक भी हो जाता हैं. तरबूज फल के साथ भी यह बात लागू होती हैं. आज हम आपको तरबूज फल के बहुत ज्यादा सेवन से हमारे शरीर में होने वाले नुकसान के बारे में जानकारी देंगे. गर्मियों में तरबूज खाने के नुकसान (Disadvantages of watermelon in Hindi) निम्न लिखित हैं.

यह भी पढ़ें - Google Keen क्या है, Google Keen को कैसे Use करे

 

शरीर में एलर्जी होने की संभावना

तरबूज फल बहुत फायदेमंद होता हैं लेकिन यदि इसका बहुत ज्यादा मात्रा में सेवन कर लिया जाये तो हमारे शरीर में एलर्जी हो सकती हैं. आपके शरीर पर चकत्ते और आपके चेहरे पर सूजन होने की संभावना होती हैं.

यह भी पढ़ें - Instagram Reels क्या है, Instagram Reels कैसे Create करें

 

पेट में परेशानी

तरबूज फल में लाइकोपीन नामक एक पदार्थ होता हैं  जो कि हमारे शरीर हेतु बहुत फायदेमंद है. यदि हमारे शरीर में लाइकोपीन नामक पदार्थ की मात्रा बहुत ज्यादा हो जाती हैं तो हमारे पेट में तकलीफ होने लगती हैं. तरबूज फल का बहुत ज्यादा सेवन करने से आपको मतली, उल्टी, अपच, गैस एवं दस्त की समस्याएं होने की संभावना बढ़ जाती हैं.

यह भी पढ़ें - Diksha App क्या है और कैसे Use करे

 

हाइपरकलेमिया

यदि मनुष्य के शरीर में पोटैशियम का स्तर सामान्य से ज्यादा हो जाये तो उसे हाइपरकलेमिया कहते है. तरबूज फल के ज्यादा सेवन से आपको हाइपरकलेमिया हो सकता हैं एवं हाइपरकलेमिया के बढ़ने से ह्रदय संबंधित तकलीफें  हो सकती हैं.

यह भी पढ़ें - Nishtha App क्या है और कैसे Use करे, NISHTHA Teacher Training Scheme क्या हैं

 

गर्भवती महिलाओं में मधुमेह (डाइबिटीज) होने की संभावना

प्रेगनेंसी के समय महिलाओं के द्वारा बहुत ज्यादा मात्रा में तरबूज फल के सेवन से उनके शरीर में शुगर की मात्रा अधिक हो जाती हैं जिसके कारण गर्भवती महिलाओं में शुगर लेवल बढ़ जाता है जिससे गर्भवती महिलाओं में मधुमेह (डाइबिटीज) होने की संभावना बहुत ज्यादा हो जाती हैं. यह उनके लिए हानिकारक होता हैं.

यह भी पढ़ें - Telegram (App, Web Version) क्या हैं और Account कैसे बनाये

 

ग्लूकोज का लेवल

तरबूज फल में ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत ज्यादा मात्रा में पाया जाता है. जिस कारण आपके शरीर में ग्लूकोज की मात्रा बहुत बढ़ जाती हैं. इसलिए मधुमेह (डाइबिटीज) से पीड़ित लोगों को तरबूज को खाने से परहेज करना चाहियें.

यह भी पढ़ें - CoWIN App क्या हैं, CoWIN Web Portal क्या हैं

 

मधुमेह (डाइबिटीज)

तरबूज फल बहुत मीठा एवं स्वादिष्ट होता हैं. तरबूज फल में शुगर भरपूर मात्रा में पाई जाती हैं. यदि आप तरबूज फल का बहुत अधिक मात्रा में सेवन करते हैं तो आपके शरीर में शुगर की मात्रा बहुत ज्यादा हो जाती हैं और आपको मधुमेह (डाइबिटीज) होने की संभावना बहुत अधिक हो जाती हैं इसलिये यदि कोई व्यक्ति मधुमेह (डाइबिटीज) से पीड़ित हैं तथा वह इंसुलिन का प्रयोग कर रहा हैं तो उसे तरबूज फल खाने से बचना चाहिये.

यह भी पढ़ें - Signal Private Messenger App क्या हैं और कैसे Use करें

 

ह्रदय (Heart) संबंधित समस्याएं

तरबूज फल में बहुत ज्यादा मात्रा में पोटैशियम पाया जाता हैं. तरबूज फल के बहुत अधिक मात्रा में सेवन करने से आपके शरीर में पोटैशियम की मात्रा बहुत अधिक बढ़ जाती हैं जिसके कारण आपको ह्रदय संबंधित समस्याएं हो सकती हैं.

यह भी पढ़ें - WhatsApp Chat को Telegram App पर कैसे Transfer करें, WhatsApp Data Telegram App पर कैसे Transfer करें

 

पाचन तंत्र की समस्या

तरबूज फल में जल और डाइटरी फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं. तरबूज फल में पाए जाने वाले डाइटरी फाइबर का अधिक मात्रा में सेवन करने से आपके पाचन तंत्र में यथा - गैस, पेट फूलना तथा डायरिया इत्यादि जैसी समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं.

यह भी पढ़ें - WhatsApp Calling से Mobile Data कैसे बचाये

 

ओवर हाइड्रेशन की समस्या

तरबूज फल में जल बहुत ज्यादा मात्रा में पाया जाता हैं. तरबूज फल में लगभग 92 प्रतिशत जल की मात्रा होती हैं. तरबूज फल के बहुत ज्यादा सेवन से हमारे शरीर को जितने जल की आवश्यकता होती हैं उससे ज्यादा जल की मात्रा हो जाएगी जिसके कारण हमारे शरीर में ब्लड वॉल्यूम की मात्रा बहुत अधिक बढ़ जाती हैं. हमारे शरीर में ब्लड वॉल्यूम की मात्रा बहुत अधिक बढ़ जाने के कारण थकान, पैरों में सूजन जैसी समस्याएं होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं.

यह भी पढ़ें - CoWIN App 2.0 क्या हैं, CoWIN Web Portal पर COVID - 19 / Corona Vaccine लगवाने के लिए कैसे Registration करें

 

तरबूज का उपयोग कैसे करें - How to Use Watermelon in Hindi

तरबूज का मॉकटेल अथवा कॉकटेल बनाकर, तरबूज का जूस निकालकर, तरबूज को छोटे छोटे टुकड़ों में काटकर सलाद के रूप में, तरबूज का वॉटरमेलन डोनट्स बनाकर सेवन कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें  - Aarogya Setu App से COVID - 19 / Corona Vaccine लगवाने के लिए Online Registration कैसे करें

 

तरबूज कब नहीं खाना चाहिये - When not to Eat Watermelon

तरबूज फल का सेवन रात में नहीं करना चाहिये. रात में तरबूज का ज्यादा सेवन करने से होने वाले नुकसान निम्नलिखित हैं.

1 - रात में सेवन करने से पेट की आंतों में दर्द एवं पेट से सम्बंधित अन्य समस्याएं भी हो जाती हैं.

2 - तरबूज फल में विटामिन ए, विटामिन बी-6, विटामिन सी, पोटेशियम, लाइकोपीन जैसे मिनरल्स प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जो कि हमारे गुर्दा (किडनी) के लिए बहुत लाभकारी होता हैं परन्तु रात में इसका सेवन करने से पाचन तंत्र पर इसका प्रतिकूल असर पड़ता हैं जिसके कारण हमारे गुर्दा (किडनी) सम्बंधित समस्याएं होने की सम्भावना होती हैं.

3 - तरबूज फल में शुगर की मात्रा अधिक मात्रा में होती है. रात में तरबूज फल का सेवन करने से शुगर आपके शरीर में Observe नहीं हो पाती हैं जिसके कारण आपको मोटापे की समस्या होने लगती हैं.

4 - तरबूज फल में शुगर की मात्रा अधिक मात्रा में होती है. रात में तरबूज फल का सेवन करने से शुगर आपके शरीर में Observe नहीं हो पाती हैं जिसके कारण आपको मधुमेह (डाइबिटीज)  की समस्या होने लगती हैं.

5 - तरबूज फल का बहुत ज्यादा मात्रा में सेवन करने से नसों, मांसपेशियों से सम्बंधित समस्याएं भी उत्पन्न हो जाती हैं.

यह भी पढ़ें Airplane Mode / Flight Mode अथवा Phone Switch Off किये बिना Smartphone पर Incoming Calls कैसे रोकें

 

तरबूज फल का सेवन किन्हें नहीं करना चाहिये - Who should not consume Watermelon Fruit

जिन व्यक्तियों को दमा की बीमारी हैं उन व्यक्तियों को तरबूज फल के रस का सेवन नहीं करना चाहिये क्योंकि तरबूज फल की तासीर ठंडी होती है. तरबूज फल के रस का सेवन करने से सांस की नली में सूजन उत्पन्न हो जाती है.

जिन व्यक्तियों को अस्थमा अथवा एलर्जी की बीमारी हैं उन व्यक्तियों को तरबूज फल का सेवन नहीं करना चाहिये.

यह भी पढ़ें - Microsoft Windows 11 में Screenshot कैसे लें

 

तरबूज खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिये - What not to Eat after Eating Watermelon

तरबूज फल का सेवन करने के तुरंत बाद जल नहीं पीना चाहिये. यदि आप तरबूज फल का सेवन करने के तुरंत बाद जल पीते हैं तो आपको उलटी होने की संभावना होती हैं.

यह भी पढ़ें - WhatsApp Video Call Record कैसे करें

 

डिस्क्लेमर - हमारा उद्देश्य पाठकों को मात्र जानकारी उपलब्ध कराना हैं इसकी किसी भी प्रकार की नैतिक जिम्मेदारी ब्लॉग एडमिन की नहीं हैं. किसी भी प्रकार के उपाय को आजमाने से पहले चिकित्सक से परामर्श अवश्य ले लें.

यह भी पढ़ें - Instagram Video Download कैसे करें

 

Watermelon FAQ - Tarbuj Frequently Asked Questions

प्रश्न 1 - तरबूज कितनी मात्रा में खाना चाहिये?

उत्तर - तरबूज फल पूरे दिनभर में अधिकतम लगभग 400-500 ग्राम का सेवन करना चाहिये.

प्रश्न 2 - तरबूज कब नहीं खाना चाहिये?

उत्तर - रात में तरबूज का सेवन नहीं करना चाहिये.

प्रश्न 3 - तरबूज खाने से कौन सी बीमारी होती हैं?

उत्तर - तरबूज फल का बहुत ज्यादा मात्रा में सेवन करने से नसों, मांसपेशियों से सम्बंधित समस्याएं, पेट की आंतों में दर्द एवं पेट से सम्बंधित अन्य समस्याएं भी उत्पन्न हो जाती हैं.

प्रश्न 4 - क्या खाली पेट तरबूज खा सकते हैं?

उत्तर - हाँ थोड़ी मात्रा में तरबूज का सेवन कर सकते हैं.

प्रश्न 5 - क्या तरबूज खाने से खून बढ़ता हैं?

उत्तर - हाँ तरबूज का सेवन करने से खून की मात्रा बढती हैं.

प्रश्न 6 - तरबूज को इंग्लिश में क्या कहते हैं (Tarbuj Meaning in English)?

उत्तर - तरबूज को अंग्रेजी में Watermelon कहते हैं.

प्रश्न 7 - तरबूज में कौन सा विटामिन पाया जाता हैं?

उत्तर - तरबूज में थायमिन, विटामिन सी, राइबोफ्लेविन, विटामिन बी 6, नियासिन, फोलेट डीएफई, विटामिन ए, विटामिन ए आरएई, विटामिन ई (अल्फा-टोकोफ़ेरॉल), विटामिन डी (डी 2 + डी 3), विटामिन डी, विटामिन के (फाइलोक्विनोन) विटामिन प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं.

प्रश्न 8 - क्या खाने के बाद तरबूज का सेवन नहीं करना चाहिये?

उत्तर - तरबूज फल का सेवन चावल अथवा दही के सेवन के तुरंत बाद नहीं करना चाहियें.

प्रश्न 9 - तरबूज को हिंदी में क्या बोलते हैं (Tarbuj Meaning in Hindi)?

उत्तर - तरबूज को हिंदी में तरबूजा भी कहा जाता हैं.

यह भी पढ़ें - सैमसंग स्मार्टफोन में ऐप लॉक कैसे लगायें

 

Conclusion

मुझे उम्मीद हैं कि आज के Article तरबूज के फायदे और नुकसान क्या हैं in Hindi पसंद आया होगा.

आज के Article में आपने Watermelon Vitamins, Tarbuj Khane ke Fayde, Watermelon Side Effects in Hindi, Tarbuj in English, Tarbuj Kheti, Tarbuj ko English me kya Bolate hain के बारें में विस्तारपूर्वक जानकारी प्राप्त की हैं.

यदि आपको Watermelon Benefits in Hindi Full Information के सम्बन्ध में कोई सुझाव देना हो तो Comment कीजिये एवं Article तरबूज खाने के फायदे और नुकसान क्या हैं in Hindi को अधिक से अधिक लोगों को Share कीजिये.

 

Web Stories in Hindi

यह भी पढ़ें - Windows 10 में Permanently Auto Update कैसे disable करें

यह भी पढ़ें - Twitter Video Download कैसे करें

यह भी पढ़ें - मेटावर्स क्या हैं और कैसे काम करता हैं

Post a Comment

0 Comments